चमोली: नगर पंचायत के विरोध में देवराडा और भेटा वार्ड के निवासियों ने निकाला विशाल जुलूस

चमोली: नगर पंचायत के विरोध में देवराडा और भेटा वार्ड के निवासियों ने निकाला विशाल जुलूस

उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश की सबसे पहले खबरें जानने के लिए हमारे न्यूज़ चैनल. News Portal uk को सब्सक्राइब करें .ख़बरों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें – 9634912113,- 8057536955 न्यूज़ पोर्टल, उत्तराखंड के यूट्यूब चैनल में सभी विधान सभा स्तर पर संवाददाता\विज्ञापन संवाददाता, ब्यूरो चीफ की आवश्यकता है

रिपोटर- मोहन गिरी

स्थान- थराली

थराली नगर पंचायत का भले ही 5 वर्षीय एक कार्यकाल पूरा हो चुका हो लेकिन विवाद और नगर पंचायत का मानो चोली दामन का साथ हो गठन के समय से ही अधिशासी अधिकारियों की नियुक्ति से लेकर विकास कार्यो तक नगर पंचायत के प्रति स्थानीय जनता का आक्रोश नजर आया लेकिन अब जब नगर पंचायत का 5 साल का एक कार्यकाल पूरा हो चुका है

नगर पंचायत प्रशासक के हवाले है ऐसे में आगामी नगर पंचायत चुनाव से पहले देवराडा और भेटा वार्ड के नगर वासियो ने नगर पंचायत से खुद को अलग करने की मांग शुरू कर दी है

वार्ड वासियो ने उनके वार्ड को नगर से हटाकर ग्राम पंचायत मव तब्दील करने के लिए जहां पूर्व में उपजिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजे वहीं शुक्रवार को देवराडा और भेटा वार्ड के वासियो ने थराली अपर बाजार से जुलूस निकाल तहसील कूच किया गांव नहीं तो वोट नहीं और नगर पंचायत हटाओ के नारों के साथ दोनो ही वार्डो के निवासियों ने सरकार और नगर पंचायत के विरुद्ध जमकर नारेबाजी की तहसील में प्रदर्शनकारियों ने तहसीलदार के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजते हुए

नगर पंचायत से दोनों वार्डो को हटाने की मांग की मांग पूरी न होने पर दोनों ही वार्ड के निवासियों ने आगामी लोकसभा और नगर पंचायत चुनावों का बहिष्कार करने का एलान किया है वहीं नगर के दोनों वार्डो के चुनाव बहिष्कार के एलान पर उपजिलाधिकारी ने बयान देते हुए कहा कि दोनों वार्डो के स्थानीय निवासियों का ज्ञापन शासन को भेजा गया है साथ ही उन्होंने कहा कि नगर पंचायत का कार्यकाल खत्म होने के बाद वे नगर पंचायत में प्रशासक की भूमिका में भी हैं

लिहाजा दोनो वार्डो के निवासियों से नगर पंचायत में आने वाली समस्याओं का कैसे समाधान हो इस पर फोकस किया जा रहा है उन्होंने कहा कि नगर पंचायत के चारो वार्डो में विकास कार्यो को सम्पादित करने के लिए उनके द्वारा 22 लाख की कार्ययोजना को स्वीकृत करने की दिशा में कार्य किया जा रहा है ताकि नगर वासियो का आक्रोश कम हो और विकास कार्य भी धरातल पर नजर आएं


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *