मुख्य निर्वाचन अधिकारी के नेतृत्व में प्रदेश की सभी पांचो लोकसभा सीटों पर चुनाव पारदर्शी तरीके से संपन्न कराने के लिए किया जा रहा है -प्रयास

मुख्य निर्वाचन अधिकारी के नेतृत्व में प्रदेश की सभी पांचो लोकसभा सीटों पर चुनाव पारदर्शी तरीके से संपन्न कराने के लिए किया जा रहा है -प्रयास

उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश की सबसे पहले खबरें जानने के लिए हमारे न्यूज़ चैनल. News Portal uk को सब्सक्राइब करें .ख़बरों और विज्ञापन के लिए संपर्क करें – 9634912113,- 8057536955 न्यूज़ पोर्टल, उत्तराखंड के यूट्यूब चैनल में सभी विधान सभा स्तर पर संवाददाता\विज्ञापन संवाददाता, ब्यूरो चीफ की आवश्यकता है

रिपोट – ब्यूरो रिपोट

स्थान – देहरादून

मुख्य निर्वाचन अधिकारी के नेतृत्व में प्रदेश की सभी पांचो लोकसभा सीटों पर चुनाव पारदर्शी तरीके से संपन्न कराने के लिए लगातार सभी प्रयास किया जा रहे हैं…केंद्रीय निर्वाचन के नियमों के अनुपालन में राज्य निर्वाचन के स्तर पर मतदान संबंधी सभी तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है…

राज्य निर्वाचन के स्तर पर की जा रही तैयारियों के अपडेट भी निरंतर मीडिया से साझा किए जा रहे हैं…इसी क्रम में आज अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी विजय कुमार जोगदंडे ने जानकारी देते हुए बताया की लोकसभा चुनाव के लिए राज्य की 05 लोक सभा सीटों के लिए सर्विस वोटरों की कुल संख्या 93 हजार 187 है। जिसमें टिहरी लोकसभा सीट पर 12 हजार 862, गढ़वाल लोकसभा सीट पर 34 हजार 845,

अल्मोड़ा लोक सभा सीट पर 29 हजार 105, नैनीताल लोकसभा पर 10 हजार 629 और हरिद्वार लोक सभा सीट पर 05 हजार 746 सर्विस वोटर चिन्हित किये गये हैं। सभी सर्विस वोटरों के लिए ई-पोस्टल बैलेट की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। सर्विस वोटरों के यूनिट कार्यालयों के सैन्य अधिकारियों से सक्षम स्तर पर सर्विस वोटरों को पोस्टल बैलेट उपलब्ध कराने और पोस्टल बैलेट के माध्यम से मतदान कर संबंधित रिटर्निंग ऑफिसर तक पहुंचाने के लिए अनुरोध किया गया है।

साथ ही उन्होंने कहा कि यह भी प्रयास किये जा रहे हैं कि सर्विस वोटरों का मतदान प्रतिशत लगभग शत प्रतिशत हो। पिछले लोक सभा चुनाव में उत्तराखण्ड के 90 हजार 845 सर्विस वोटरों में से 63 हजार 222 पोस्टल बैलेट प्राप्त हुए थे, जो कुल सर्विस वोटरों का लगभग 70 प्रतिशत था। डाक मतपत्र मतगणना दिवस तक सुबह 08 बजे तक आरओ के पास पहुंच जाने चाहिए, इसके बाद प्राप्त होने वाले डाक मतपत्रों पर मतगणना के लिए प्रयोग नहीं किया जा सकेगा।

साथ ही अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि राज्य में बनाये गये 11 हजार 729 पोलिंग बूथों में चुनावी पारदर्शिता को बनाये रखने के लिए कई व्यवस्थाएं की जायेंगी। राज्य के 5898 पोलिंग बूथों में वेब कास्टिंग की व्यवस्था की जा रही है। कुछ पोलिंग बूथों पर माइक्रो ऑर्ब्जवर और वीडियोग्राफी की व्यवस्था भी की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *